Monday, 16 March 2015

छत्तीसगढ़ राज्य विरूद्व मनोज कुमार (धारा 376, एवं 506 भाग-दो)

अभियोजन-कथा संक्षेप में इस प्रकार है - कि-पीडिता/अभियोक्त्रिी अ.सा.क्र.-1 के द्वारा प्र0पी 1 के अनुसार दिनांक 18/03/2014 को आरोपी के विरूद्ध इस आशय की रिपोर्ट दर्ज करवाई गई कि दिनांक 26/03/2014 के शाम करीब 5 बजे जब अभियोक्त्री शोैच से अकेले घर वापस आ रही थी एवं उसके काका ससुर कल्याण के खेत के पास आई उसी समय आरोपी पीछे से आया एवं उसे जमीन पर पटक दिया तथा जबर्दस्ती उसके साथ बलात्कार किया। बहुत चिल्लाने व छुडाने का प्रयास करने भी मौके पर कोई नहीं आया। घटना के दौरान आरोपी के द्वारा इस आशय की धमकी दी गई कि घटना की जानकारी किसी को देने पर वह अभियोक्त्री के बच्चे व अभियोक्त्री को जान से मार डालेगा। पश्चात में अभियोक्त्री अपनी सास धर्मिन बाई अ0सा0 3 तथा अपने पति सत्यवीर खुटियारे अ0सा0 2 को घटना की जानकारी दी एवं प्र0पी 1 के अनुसार रिपोर्ट दर्ज कराई।

No comments:

Post a Comment

My Blog List